chatra doctors: झोलाछाप डॉक्टर की शिकार एक और मासूम

chatra doctors

chatra doctors: चतरा जिले में एक और बेहद दुखद मामले में, एक झोलाछाप डॉक्टर ने धड़ल्ले से चल रहे अवैध क्लिनिक और नर्सिंग होम के माध्यम से एक मासूम की जान ले ली है। यह वारदात हंटरगंज थाना क्षेत्र के केदली गांव में हुई है, जहां एक ढाई साल के बच्चे की जान ले ली गई।

chatra doctors: विवाद की शुरुआत

मामले का आरंभ हुआ था जब बच्चे के पिता, छोटू यादव, ने अपने बच्चे को झोलाछाप डॉक्टर मदन कुमार की अवैध क्लिनिक में इलाज के लिए ले जाया। डॉक्टर ने बच्चे को दवा दी और एक इंजेक्शन लगाया। लेकिन बच्चे को घर ले जाने के बाद उसकी स्थिति बिगड़ने लगी।

आपत्तिजनक घटना

chatra doctors: बच्चे की तबियत में गंभीरता देखकर परिजनों ने उसे सदर अस्पताल चतरा भेजा, जहां उसकी मौत हो गई। परिजनों का दावा है कि झोलाछाप डॉक्टर ने गलत इलाज किया, जिससे बच्चा हमेशा के लिए हमें छोड़ गया।

chatra doctors: स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही

चतरा में इस घटना के बावजूद, स्वास्थ्य विभाग इस अवैध क्लिनिक और नर्सिंग होम के संचालन के बारे में अनजान बना हुआ है। यहां झोलाछाप डॉक्टरों का संचालन चलता है, जिससे लोगों के जीवन को खतरे में डाला जा रहा है। इसके बावजूद कार्रवाई नहीं होने से इन डॉक्टरों का मनोबल बढ़ा हुआ है।

अवैध क्लिनिक और नर्सिंग होम का संचालन

chatra doctors: चतरा में हो रहे इस अवैध क्लिनिक और नर्सिंग होम का संचालन धड़ल्ले से हो रहा है, जिससे लोगों की जानें जा रहीं हैं। यहां लोगों को बेहद खतरनाक इलाज किया जा रहा है, जिससे महिलाएं और बच्चे बहुत जोखिम में पड़ रहे हैं।

chatra doctors: सुरक्षित इलाज के लिए सतर्कता

यह मामला हमें यह दिखाता है कि लोगों को अपनी स्वास्थ्य सुरक्षित रखने के लिए सतर्क रहना होगा। अवैध क्लिनिक और नर्सिंग होम से इलाज कराने से पहले, स्थानीय स्वास्थ्य विभाग की जांच और मंजूरी हासिल करना अत्यंत महत्वपूर्ण है।

समाप्ति

chatra doctors: इस घटना ने यह साबित किया है कि चतरा में अवैध डॉक्टरों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की आवश्यकता है। स्थानीय अधिकारियों से हम आपसे अनुरोध करते हैं कि वे इस मामले की जांच में सक्रिय भूमिका निभाएं और इस अत्याचार को रोकने के लिए कठोर कार्रवाई करें।

ये भी पढ़ें: anjuman hospital ranchi पर विवाद: अस्पताल बंद करने का आरोप

YOUTUBE

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *