e kalyan scholarship scam: स्कॉलरशिप में हुई 2.79 Cr की धोखा

e kalyan scholarship scam

e kalyan scholarship scam: झारखंड में छात्रों को दी जाने वाली स्कॉलरशिप में बड़ी अनियमितता सामने आई है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, छात्रवृत्ति के 2,126 मामलों में ई-कल्याण डेटाबेस के अनुसार, आवेदक का नाम और बैंक खाता, लाभार्थी और उसके बैंक खाते के बीच मेल नहीं हो रहा है। इसके अलावा, 188 मामलों में एक ही आधार नंबर से 2.79 करोड़ रुपये की छात्रवृत्ति दी गई है।

e kalyan scholarship scam: अनियमितता के खिलाफ आंदोलन

रिपोर्ट के अनुसार, रांची, पलामू और चतरा में छात्रवृत्ति के 2,126 मामलों में, ई-कल्याण डेटाबेस की गई जांच में पता चला है कि आवेदकों के नाम और बैंक खाता विवरण में मेल नहीं है। इससे 2.79 करोड़ रुपये की अनियमितता का पता चला है, जिसे शिक्षा विभाग ने किया है गलत भुगतान प्रमाणित।

e kalyan scholarship scam: छात्रवृत्ति का अनुभव

e kalyan scholarship scam: वर्ष 2017-20 तक, रांची, पलामू और चतरा में 2.79 करोड़ रुपये की छात्रवृत्ति के लाभार्थियों के बीच आधार संख्या का अवैध उपयोग हुआ है। 188 मामलों में एक ही आधार संख्या से राशि का वितरण हुआ है, जिससे खुदाई हुई है।

रिपोर्ट के मुताबिक

ई-कल्याण एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर में छात्रवृत्ति नियमों को सही से मैप नहीं करने की वजह से अयोग्य आवेदनों को स्वीकृत करने में रुकावट आई है। सॉफ्टवेयर की टेक्निकल गड़बड़ी के कारण योजना को सही से लागू करने में भी विघ्न उत्पन्न हो रहा है। इससे उम्मीदवारों की पात्रता का सत्यापन नहीं किया जा सका और सॉफ्टवेयर का आरएसएफ मॉड्यूल भी काम नहीं कर रहा था। इस विफलता के बावजूद, यूआइडीएआइ झारखंड डेटाबेस से छात्रों की विवरणी मान्य नहीं की गई थी, जिससे सही रूप से छात्रवृत्ति का भुगतान नहीं हो सका।

e kalyan scholarship scam: सुधार की कदम

e kalyan scholarship scam: शिक्षा विभाग ने यह खुलासा करते हुए त्वरित सुधार की बात की है और अनियमितता को दूर करने के लिए कड़ी कदमबद्धता दिखाई है। इसके साथ ही, विभाग ने आगे बढ़कर सही मार्गदर्शन और प्रशिक्षण की आवश्यकता को भी महत्वपूर्ण माना है।

निष्कर्ष

e kalyan scholarship scam: यह खुलासा दिखाता है कि स्कॉलरशिप के वितरण में हो रही अनियमितता को लेकर सरकार ने तत्परता बनाए रखने का आदान-प्रदान किया है और यह सुनिश्चित करने के लिए कि लाभार्थी सही रूप से छात्रवृत्ति प्राप्त करें।

ये भी पढ़ें: हेमन्त सोरेन ने ‘christmas’ पर्व की शुभकामनाएं दी

YOUTUBE

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *