ed jharkhand: मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को समन का निर्देश

ed jharkhand

ed jharkhand: झारखंड, 20 जनवरी, 2024: आपत्ति विभाग (ईडी) ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को एक और पत्र भेजकर बड़ा कदम उठाया है। इस पत्र में उन्हें सात दिनों के अंदर बयान दर्ज कराने के लिए समन देने का निर्देश दिया गया है। इसके पहले भी ईडी ने उन्हें समन भेजकर सात दिनों का समय दिया था, लेकिन मुख्यमंत्री ने अब तक इसका पालन नहीं किया है।

ed jharkhand: ईडी का समन: आदेश का पालन करें या नहीं?

ईडी ने मुख्यमंत्री को समन भेजकर उन्हें बयान दर्ज कराने के लिए पांच दिनों का समय दिया है। इस समय के अंदर मुख्यमंत्री को उचित जगह और समय बताने का भी आदेश दिया गया है। चेतावनी दी गई है कि अगर वह समय पर नहीं पहुंचते हैं, तो ईडी खुद ही उनके पास पहुंचेगा।

समन का मतलब: कानून सबके लिए बराबर

ed jharkhand: ईडी ने पत्र में यह भी बताया है कि मुख्यमंत्री होने का मतलब यह नहीं है कि वह कानून से ऊपर हैं। समन का आदान-प्रदान कानून सम्मत है और उन्हें इसका पालन करना होगा।

ed jharkhand: ईडी का पिछला पत्र: काम पर रुकावट का आरोप

पहले भी ईडी ने मुख्यमंत्री को 29 दिसंबर को समन भेजा था, जिसमें सात दिनों का समय दिया गया था। इसके बावजूद, मुख्यमंत्री ने कार्रवाई में दुर्भावना बनाए रखने का आरोप लगाया और समन का पालन नहीं किया।

चुनौती स्वीकारें या नहीं: सुप्रीम कोर्ट का निर्देश

ed jharkhand: सुप्रीम कोर्ट ने मुख्यमंत्री को इस मामले में चुनौती देते हुए हाइकोर्ट में याचिका दायर करने की अनुमति दी थी। हाइकोर्ट से भी राहत नहीं मिलने के बाद, अब मुख्यमंत्री को ईडी के समन का सामना करना होगा।

ed jharkhand: ईडी के समन का इतिहास: कब-कब भेजा गया

  • 14 अगस्त 2023
  • 24 अगस्त 2023
  • 9 सितंबर 2023
  • 23 सितंबर 2023
  • 4 अक्टूबर 2023
  • 12 दिसंबर 2023
  • 12 जनवरी 2024

ed jharkhand: ईडी के इस समन के माध्यम से यह दिखता है कि कानूनी प्रक्रिया का पालन करने के लिए मुख्यमंत्री से बयान लेने का इरादा स्थिर है। अब यह देखना होगा कि वे इस कदम का कैसे जवाब देते हैं और क्या नतीजा निकलता है।

ये भी पढ़ें: narendra modi in dhanbad:भाजपा की रैली में महत्वपूर्ण घटनाएं

YOUTUBE

One thought on “ed jharkhand: मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को समन का निर्देश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *