net jrf exam राज्यपाल के आदेश पर JRF, UGC NET प्रवेश परीक्षा

net jrf exam

net jrf exam: झारखंड: राज्यपाल के आदेश पर JRF, UGC NET और प्रवेश परीक्षा में सफल अभ्यर्थियों का रिजल्ट जारी करने का आदेश

net jrf examराज्यपाल का आदेश

रांची झारखंड राज्य के सरकारी विश्वविद्यालयों में JRF, UGC NET, और प्रवेश परीक्षा में सफल हुए अभ्यर्थियों के रिजल्ट को अलग-अलग जारी करने के लिए राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन ने आदेश जारी किए हैं।

पीएचडी प्रवेश परीक्षा में एकरूपता

net jrf exam: राज्यपाल ने सभी सरकारी विश्वविद्यालयों को यूजीसी रेगुलेशन-2022 के अनुसार पीएचडी प्रवेश परीक्षा, रिजल्ट, मेरिट लिस्ट, और नामांकन में एकरूपता बनाए रखने के लिए निर्देश दिया है। इसका मतलब है कि सभी विश्वविद्यालयों को इन प्रक्रियाओं को यूजीसी रेगुलेशन के अनुसार संचालित करना होगा।

net jrf exam: प्रवेश परीक्षा का आयोजन

प्रमुख सचिव डॉ नितिन मदन कुलकर्णी ने सभी विश्वविद्यालयों के कुलपति/प्रभारी कुलपति को आदेश भेजकर राज्यपाल के निर्देशों का पालन करने का निर्देश दिया है। प्रवेश परीक्षा के लिए विज्ञापन जारी करने के साथ ही उपलब्ध क्वालिफाइड सुपरवाइजर के साथ उच्च शिक्षा के विभिन्न विषयों में पीएचडी की रिक्त सीटें घोषित की जाएंगी।

परीक्षा का प्रारूप

net jrf exam: पीएचडी प्रवेश परीक्षा का प्रारूप 100 अंकों का होगा, जिसमें 70 अंक मल्टीपल च्वाइस प्रश्नों के लिए होंगे। इसमें से 50 अंक रिसर्च मैथेडोलॉजी और 20 अंक संबंधित विषयों/एनालिटिकल स्किल्स पर आधारित होंगे। इसके अलावा, 30 अंक रिसर्च डिजाइन/स्कॉलर आइडिया से संबंधित एक लघु प्रजेंटेशन के लिए भी मापदंड होंगे।

net jrf exam: यूजीसी रेगुलेशन 2022 की प्रक्रिया

राज्य में सभी सरकारी विश्वविद्यालयों में यूजीसी रेगुलेशन-2022 बनाने की प्रक्रिया भी जारी है। इस प्रक्रिया के तहत, उच्च शिक्षा निदेशालय ने विश्वविद्यालयों से रेगुलेशन को मान्यता प्राप्त करने का आदेश दिया है।

निष्कर्ष

net jrf exam: राज्यपाल के इस आदेश से झारखंड के शिक्षा क्षेत्र में परीक्षा संबंधित प्रक्रियाओं में सुधार होने की उम्मीद है और छात्रों को एक समर्थनपूर्ण परीक्षा प्रणाली का लाभ होगा।

ये भी पढ़ें: jac 10th board 2024 update: मैट्रिक और इंटर परीक्षाएं – तिथियाँ, सेंटर, और

YOUTUBE

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *