Rajeev Kumar cash scandal: अमित अग्रवाल की गिरफ्तारी

Rajeev Kumar cash scandal

Rajeev Kumar cash scandal: अधिवक्ता राजीव कुमार कोलकाता में 50 लाख रुपये कैश कांड के आरोपी व्यवसायी अमित अग्रवाल को सीबीआइ दिल्ली ने पांच दिनों की रिमांड पर ले लिया है। यह खबर गुरुवार कोपहुंची गौरतलब है कि रांची के होटवार स्थित बिरसा मुंडा केंद्रीय कारा में हुई इस घटना की सीबीआइ दिल्ली टीम ने त्वरित कार्रवाई की। आपको इसमें विवेचना करने और पूर्ण जानकारी प्रदान करने के लिए हम इस खबर को विस्तार से बता रहे हैं।

अभियुक्त कौन हैं?

हाइकोर्ट के अधिवक्ता राजीव कुमार को कोलकाता में गिरफ्तार किए जाने वाले आरोपी अमित अग्रवाल ने कैश कांड के मामले में हुई संलिप्तता के लिए सीबीआइ की नजरों में बने थे। इसके अलावा, अमित अग्रवाल ने राजीव कुमार को रांची से कोलकाता बुलाया और उन्हें गिरफ्तार करवाने की षड्यंत्र की संभावना बताई जा रही है।

Rajeev Kumar cash scandal: प्राथमिकी दर्ज की गई आपत्तिजनक मामले में

इस मामले में दिल्ली सीबीआइ ने अमित अग्रवाल सहित पश्चिम बंगाल के कुछ पुलिस अधिकारियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। इसका मतलब है कि इस मामले में अधिकारीयों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जा सकती है जब तक यह मामला पूरी तरह से स्वर्गीकृत नहीं होता है।

Rajeev Kumar cash scandal: दिल्ली सीबीआइ की टीम का कार्रवाई में रांची का रोल

Rajeev Kumar cash scandal: रांची में होटवार स्थित बिरसा मुंडा केंद्रीय कारा पर पहुंची दिल्ली सीबीआइ की टीम ने इस मामले में जाँच करने के लिए राजीव कुमार को तबादला किया और उनके साथ ही ज़मीन घोटाला मामले में जेल में बंद अमित अग्रवाल को भी साथ ले गई।

अदालत की इजाजत पर रिमांड पर लेने की कहानी

Rajeev Kumar cash scandal: दिल्ली सीबीआइ ने राजीव कुमार कैश कांड में अमित अग्रवाल से पूछताछ की आवश्यकता महसूस की, और इसके बाद उन्होंने सीबीआइ की विशेष अदालत में रिमांड पर लेने की इजाजत के लिए आवेदन दिया। अदालत ने इस आवेदन को स्वीकृत करते हुए सीबीआइ को अमित अग्रवाल को पांच दिनों के रिमांड पर लेने की इजाजत दी।

ये भी पढ़ें: Birsa Munda Central Jail: बिरसा मुंडा केंद्रीय कारागार में रेड के बाद हड़कंप

YOUTUBE

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *