sahibganj jharkhand: ED समन के विरोध, साहिबगंज में चक्का जाम

sahibganj-jharkhand

sahibganj jharkhand, झारखंड, 17 जनवरी, 2024: झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को ईडी समन के खिलाफ जेएमएम कार्यकर्ताओं का विरोध प्रदर्शन हो रहा है। इस विरोध के चलते साहिबगंज जिले में चक्का जाम और नारेबाजी की घटनाएं सामने आई हैं।

sahibganj jharkhand: चक्का जाम और नारेबाजी का सामना

बरहेट विधानसभा से लेकर पूरे साहिबगंज जिले में जेएमएम कार्यकर्ताओं ने सुबह 7:30 बजे से ही सड़कों पर बांस लगाकर चक्का जाम किया। इस आंदोलन के दौरान कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के खिलाफ नारे लगाए और आंदोलन की मुख्य आवश्यकताएं उजागर कीं।

आरोप: ईडी का समन पॉलिटिक्स?

sahibganj jharkhand: कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन के दौरान ईडी के खिलाफ आरोप लगाते हुए कहा कि ईडी झारखंड के पत्थर व्यवसायी को परेशान कर रही है और इसका मुख्य लक्ष्य भाजपा की सरकार को दुर्बल बनाना है। वे इसे पॉलिटिकल गड़बड़ी का हिस्सा मान रहे हैं और ईडी की कार्रवाई को नकारात्मकता से देख रहे हैं।

sahibganj jharkhand: चक्का जाम का सामाजिक प्रभाव

चक्का जाम के दौरान कार्यकर्ताओं ने स्कूल जाने वाले बच्चों और स्कूली बसों को अस्पताल की सेवा को छोड़कर ने जाने दिया। इससे बच्चों की सुरक्षा को ध्यान में रखा गया है। स्थानीय व्यापारी भी अपने दुकानें बंद कर चक्का जाम में सामर्थ्य करने में सहायक बन रहे हैं।

नागरिकों का समर्थन

sahibganj jharkhand: विरोध प्रदर्शन में भाग लेने वाले कार्यकर्ताओं का कहना है कि यह उनका मुख्यमंत्री के समर्थन में है और वे ईडी के खिलाफ उठ रहे हैं क्योंकि वे इसे भाजपा की साजिश समझ रहे हैं। इसे लेकर उनकी मांग है कि समन को तुरंत रद्द किया जाए और हेमंत सोरेन को बर्खास्त करने की कोशिश की जा रही है, जिसका सीधा लाभ भाजपा को होगा।

निष्कर्ष: झारखंड में राजनीतिक उबाल

sahibganj jharkhand: इस पूरे मामले से स्पष्ट होता है कि झारखंड में राजनीतिक उबाल बढ़ रहा है और विभिन्न दलों के बीच तनाव बना हुआ है। इसे लेकर आने वाले दिनों में और भी गतिमान हो सकता है।

ये भी पढ़ें: ed hemant soren: 20 जनवरी को CM हेमंत सोरेन की ईडी से पूछताछ

YOUTUBE

One thought on “sahibganj jharkhand: ED समन के विरोध, साहिबगंज में चक्का जाम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *